Work

ऑफ़िस टेंशन को कैसे दूर करे?

How to remove Office Tension

आजकल कल का हर युवा multinational  company  में  वर्क करना चाहता है। यह कंपनिया हमें ज़्यादा सैलरी तो देती है दी लेकिन  साथ में उतना ही ज़्यादा तनाव भी हमारी झोली में डाल देती है। मैं एक मल्टीनेशनल कंपनी में job करके बहुत खुश थी और जब पहली सैलरी मेरे हाथ में आई तो ख़ुशी का कोई ठिकाना ही नही था  पर  मेरी यह ख़ुशी दिन-ब-दिन कम होने लगी थी। Office में देर तक काम करने और Deadline के प्रेशर ने मेरी मुस्कुराहट ही छीन ली थी| में अब हर टाइम ऑफिस के वर्क को लेकर चिड़चिड़ी होने लगी थी न अपनी फ़िटनेस पर ध्यान दे पा रही थी और धीरे-धीरे Depression की गिरफ़्त में जा रही थी यह सिर्फ मेरा ही अनुभव नहीं हे बल्कि Corporate  Sector  में काम कर रहे हर व्यक्ति का है.एक शोध में बताया गया है की भारत  में 5 करोड़ से ज़्यादा लोग Depression के शिकार हैं और सबसे  ज्यादा Office Sector  में है हर दिन के इस तनाव से निपटने के लिए हम आपको कुछ टिप्स बता रहे है|

ख़ुद के लिए वक़्त निकालें

खुद के लिय वक़्त निकालना बेहद जरूरी होता है। अगरआप अपना ही ध्यान नही करेंगे तो दुसरो का कैसे करेंगे। पहले ध्यान दे की आपको ऑफिस में Late  Night तक रुकना न पड़े और सबसे जरूरी बात खाना टाइम पर ही   खाए। ऑफ़िस से आने के बाद अपने मनपसंद काम करें, जैसे अपनी पसंदीदा किताबे पढ़े ,अपने फ़ोन में  Games खेले, Songs सुने  कभी- कभार Time निकालकर बाहरFamily के साथ घुमने जाये या कभी Parler जाये |

तनाव को साथियों या फ्रेंड से बांटे 

अगर आपके Office में कोई एसी बात हुई है या कोई एसी बात हे जो आपको बार -बार परेशान कर रही है तो आप उसे अपने साथी से Share करे क्योकि Share करने से ही बात सुलझती हे अगर आप उसे किसी को नही बताते हे  तो आपके लिय समस्या पैदा होती जाएगी।बात शेयर करने से आपका मन हल्का हो जायेगा और आप अकेलापन महसूस नहीं करेंगे ।

सुनियोजित रहें

ऑफिस आने से पहले अपना प्लान नियोजित करके आये  जिससे अगर आपको कोई कम अचानक से दिया जाये तो आपको तनाव या भारी न लगे। हड़बड़ाहट में दिमाग़ पर दबाव बनता है, इसलिए ठंडे दिमाग़ से काम को  निपटाने के बारे में सोचें ऑफ़िस के तनाव को अपनी ज़िंदगी का हिस्सा न बनने दें। ऑफिस आने से पहले कल की योजना बनाकर चले की और उन पॉइंट्स को लिखकर चले  जिससे आपको अगले दिन ऑफिस में कम क भार नही पड़ेगा और तनाव भी नही होगा।

ऑफ़िस का टेंशन ऑफ़िस में छोड़ आएं

इस कथन पर पूरी तरह अमल करें, कि ऑफ़िस का काम घर न लाएं और घर का काम ऑफ़िस न ले जाएं। अगर आप अपनी ऑफिस की टेंशन को घर में लेकर जायेंगे तो  घर में भी  टेंशन का माहोल बन जायेगा  जिसका असर आपके रिश्तो पर भी पड़ सकता है और इस वजह से न आप खुद को वक़त दे पायेगे और न Family को इससे आपकी सेहत भी खराब होगी। साथ ही आपके रिश्ते भी कमज़ोर होने लगेंगे तो इस बात का ध्यान रखे।

‘ना’ कहना सीखें

 

अक्सर हमारी आदत होती है की हम किसी को ना नही कह पाते है और इस चक्कर में ख़ुद पर काम का ज़्यादा बोझ ले लेते हैं। अगर आपको  कही जाना हे या  घर पर कुछ काम है तो आप स्पष्ट  शब्दों में  ना कहना सीखे। जिस काम को आप नहीं कर पा रहे हो तो उसे प्यार से मना कर दें. ‘हां’ कहकर एक तो आप काम ढंग से पूरा नहीं कर पाएंगे और दूसरे तनाव के जाल में फंस जाएंगे। आपसे जितना काम  हो आप उतना ही वर्क करे।

अपनी डाइट  का ख्याल रखे 

जिस तरह से आप अपने ऑफिस वर्क को बखूबी निभाते है उसी तरह आप अपनी Diet का भी ख्याल रखे| time to time खाना खाए और अपने Daily Routine में हरी पत्तेदार सब्जियों  और Fruits को शामिल करे।

 

Show More

Ferry Khan

मेरा नाम फैरी खान है। मैंने Education में BCA किया है। बचपन से ही मुझे पढ़ने और लिखने का शौक रहा है। यही कारण है कि Blogging में बहुत समय से मेरी रूचि रही है। यह Blog मैंने मेरी ही जैसी अन्य लड़कियों और महिलाओं को कुछ जरूरी एवं उपयोगी जानकारी प्रदान करने के उद्देश्य से शुरू किया है। यह Blog आपको Personal Care, fashion, Love & Sex, relationships, Jobs & Career, Parenting, Some Interesting Stories के बारे में जानकारी देते हुए आपको सामाजिक एवं सांस्कृतिक रूप से सुदृढ़ बनाता है। इसके जरिए आप अपने अधिकारों को जानते हुए खुद को सही चुनाव के लिए तैयार कर सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *